आधुनिक भारत का इतिहास : उपाधि प्राप्तकर्ता एवं दाता

यहाँ भारत के इतिहास से सम्बंधित महापुरुषों और उनकी उपाधियों से सम्बंधित जानकारी दी जा रही है। प्रतियोगी परीक्षाओं के लिहाज से उपाधि प्राप्तकर्ता और दाता के विषय में जानना लाभदायक होगा। 


* महात्मा गाँधी को सुभाष चन्द्र बोस ने 'राष्ट्रपिता' की उपाधि दी थी.

* महात्मा गाँधी को 'महात्मा' रवीन्द्र नाथ टैगोर ने कहा था.

जानिए कांग्रेस की स्थापना से लेकर आजादी तक के अधिवेशन कहाँ-कहाँ हुए थे। 

आधुनिक भारत के इतिहास से सम्बंधित प्रश्न-उत्तर - परीक्षोपयोगी संकलन
क्या आप भारत के गवर्नर जनरल और वायसराय के नाम जानना चाहते हैं ?
वेलेजली की सहायक संधि, जिसने भारत को गुलाम बना दिया।

* रवीन्द्रनाथ टैगोर को 'गुरुदेव' महात्मा गाँधी ने कहा था.

 सुभाष बाबू को 'नेताजी' की उपाधि हिटलर ने दी थी.

* महाराजा खेतड़ी ने स्वामी विवेकानंद को 'स्वामी' की उपाधि दी थी. स्वामी विवेकानंद का मूल नाम नरेन्द्रनाथ दत्त था.

* राजा राममोहन राय को 'राजा' की उपाधि मुगल सम्राट अकबर द्वितीय ने दी थी.

* सुभाष बाबू को 'देशनायक' रवीन्द्रनाथ टैगोर ने कहा था.

* बल्लभभाई पटेल को 'सरदार' की उपाधि बारदोली की महिलाओं ने दी थी.

* डॉ. राजेन्द्र प्रसाद को 'देशरत्न' व ' 'अजातशत्रु' की उपाधि से महात्मा गाँधी ने नवाजा था.

* महात्मा गाँधी ने मोहम्मद अली जिन्ना को 'कायदे आजम' की उपाधि दी थी.

कोई टिप्पणी नहीं

Blogger द्वारा संचालित.