सल्तनत काल की प्रशासनिक व्यवस्था

सल्तनतकालीन प्रशासनिक व्यवस्था - दिल्ली सल्तनत का प्रशासन

सल्तनत काल की प्रशासनिक व्यवस्था व प्रमुख विभागों के नाम की सूची व इन विभागों को स्थापित करने वाले शासक. ये सूची प्रतियोगिता परीक्षा के लिहाज से भी बहुत महत्वपूर्ण है..इन्हें बार-बार दोहराएं और कंठस्थ कर लें। 


1. दीवान-ए-मुस्तखराज......यह वित्त विभाग था जिसकी स्थापना अलाउद्दीन खिलजी ने की थी.

2. दीवान-ए-आरिज (अर्ज).......यह सैन्य विभाग था जिसकी स्थापना बलबन द्वारा की गई थी.

3. दीवान-ए-विजारत....यह सल्तनत काल का वजीर का विभाग था.

4. दीवान-ए-इंशा....यह शाही पत्राचार विभाग था.

5. दीवान-ए-अमीरकोही....यह मुहम्मद बिन तुगलक द्वारा स्थापित कृषि विभाग था.

6. दीवान-ए-रसालात....यह विदेश विभाग था

7. दीवान-ए-खैरात....यह फिरोजशाह तुगलक द्वारा स्थापित दान विभाग था.

8. दीवान-ए-इस्तिहाक....यह भी फिरोजशाह तुगलक द्वारा स्थापित विभाग था. यह पेंशन से संबंधित विभाग था.

9. दीवान-ए-बंदगान....फिरोजशाह तुगलक द्वारा स्थापित दास विभाग था.

10. दीवान-ए-रियासत....अलाउद्दीन खिलजी द्वारा स्थापित एक नवीन विभाग, जिसका संबंध आर्थिक मामलों की देखभाल व व्यापारिक समुदायों पर नियंत्रण से था.

इनके अतिरिक्त दिल्ली सल्तनत में और भी कई विभाग थे जो सल्तनत काल की प्रशासनिक व्यवस्था को दृढ़ता प्रदान करते थे.

वजीर के नियंत्रण में दीवाने- इशराफ नामक विभाग था जो लेखा परीक्षा से संबंधित था.

दीवान-ए-इमारत....यह पब्लिक वर्क्स यानी सार्वजनिक निर्माण विभाग था। 

कोई टिप्पणी नहीं

Blogger द्वारा संचालित.