Domain Name System क्या है ? What is DNS in Hindi

DNS - Domain name System क्या है ? (Domain Name System in Hindi) Top level domain (TLD) और Domain name Extension क्या होता है ? अपने वेबसाइट के लिए एक अच्छे domain name का चुनाव कैसे करें ? 

Dns domain name kya hota hai


हम इस आर्टिकल के जरिये डोमेन नाम सिस्टम सम्बन्धी चीज़ों को समझने का प्रयास करेंगे :-

#Domain Name System ( DNS ) क्या है 

#IP ADDRESS क्या होता है 

#Top Level Domain ( TLD ) किसे कहते हैं 

#Generic और Country Domain ( Cctld ) क्या है 

#Domain name कैसे choose करें - ब्लॉग या वेबसाइट के लिए 

#Domain name Registration / Provider की सूची 
अब हम इन सभी पहलुओं को थोड़े विस्तार से समझने का प्रयास करते हैं।


Domain Name System + DNS + डोमेन नाम प्रणाली क्या होता है ?

 सबसे पहले हम यह जान लेते हैं कि IP एड्रेस क्या होता है। कई बार आप Web Browsing के क्रम में भी इस शब्द यानि IP Address को देखा होगा । आपके मन मे यह सवाल जरुर आया होगा कि यह IP Address क्या है ? दरअसल यह एक पता है जिसमे कुछ विशेष अंक होते हैं । प्रत्येक कंप्यूटर अथवा सम्बन्धित उपकरण जैसे Mobile, Tablet आदि जो इंटरनेट से जुड़े होते हैं, उन्हें Server द्वारा एक विशेष अंकीय पता दिया जाता है । इसे हम IP Address कहते हैं ।

Computer Server केवल बाइनरी digit वाले अंकीय पता को ही पहचान सकता  है और इस IP Address को याद रखना भी एक कठिन कार्य है । ऐसी स्थिति में क्या किया जाए;  इसी समस्या के समाधन के रूप में Domain Name System यानि DNS का प्रयोग किया जाता है ।

Domain Name System ( DNS  ) संख्याओं के मेल से बने इस IP Address को शब्दों के मेल से बने Domain Name में बदल देता है । इस प्रकार हम इसे आसानी से याद भी रख सकते हैं और इसका उपयोग भी कर सकते हैं ।

Domain name system में सभी Domain Name व इससे संबंधित  IP Address का संग्रह होता है । अब जब हम किसी Web browser पर कोई Domain name ( जैसे whiteambition.com ) type करेंगे तो Domain name system उसे अंकीय पता यानि IP Address में बदल देगा और server उस कम्प्यूटर की पहचान कर उससे सम्पर्क स्थापित कर लेगा ।

उल्लेखनीय है कि Domain Name ( डोमेन नाम ) केस सेंसिटिव ( Case Sensitive) नहीं होता है । इसका मतलब यह हुआ कि हम किसी Web Browser पर किसी website का Domain name Capital letters में type करें या Small letters में, परिणाम समान ही आएगा ।

Domain Name अर्थात् डोमेन नाम - Domain Name एक विशेष नाम है जिससे किसी वेबसाइट ( Website ) का पता चलता है । यह Network में प्रत्येक वेबसाइट को दिया गया एक विशेष नाम है । इस प्रकार, यह स्पष्ट है कि प्रत्येक website का अलग Domain Name होता है । किसी भी दो Websites के Domain Name एक नहीं हो सकते ।

 👉 आइए, Domain Name के कुछ Examples ( उदाहरण ) देखते हैं ।
Facebook.com
Google.com
Whiteambition.com 
Yahoo.co.in


ऊपर दिये गए नामों को गौर से देखिये। आप देख रहे हैं कि इसमे एक भाग नाम है और एक भाग (डॉट +com, in आदि) । Domain Name में किसी वेबसाइट का नाम और एक्सटेंशन नाम शामिल होता है ।
यहां प्रत्येक website के नाम अलग-अलग होते हैं जबकि एक्सटेंशन नाम कुछ निर्धारित नामों में से कोई एक होता है । website के नाम और Extention नाम को Dot के द्वारा अलग करते हैं  (.com, .in आदि) ।

Domain Name Extention से सम्बन्धित महत्वपूर्ण तथ्य :
👉 Domain Name का एक भाग वेबसाइट का नाम होता है, जबकि इसका दूसरा भाग कुछ पूर्व निर्धारित Extentions में से कोई एक हो सकता है । इसे डॉट के चिन्ह द्वारा अलग करते हैं ।

👉 Domain Name में अंक व अक्षर दोनों हो सकते हैं ।

👉 Domain Name अधिकतम 64 character हो सकते हैं ।

👉 Domain Name में हम एकमात्र विशेष कैरेक्टर (-) का प्रयोग कर सकते हैं ।

👉 Domain Name का अन्तिम भाग, जिसे हम (डॉट) के बाद लिखा हुआ देखते हैं; यह किसी संगठन अथवा देश आदि को द्योतित करता है । इसे हम Domain Indicator या TLD ( Top level domain ) कहते हैं ।

Genric domain ( जेनरिक डोमेन ) और Country Domain क्या होता है ?

       Domain के प्रकार - Types of Domain in Hindi  

Generic Domain- Generic Domain किसी संगठन को इंगित करता है । किसी देेेश को द्योतित करने वाला Domain name कंट्री डोमेन कहलाता है ।

आइए, हम कुछ TLD यानि Top Level Domain के Examples देखते हैं । Blog या website में Domain name का बड़ा महत्व होता है । Top LevelDomain को Search engine से भी importance मिलता है । इस प्रकार, blogging करने वालों की पहली पसन्द Top Level Domains ही होते हैं । यह Search engine optimization यानि SEO के लिहाज से भी फ्रेंडली होता है और इसकी मदद से blog या Website को सर्च इंजन में Rank करने में मदद मिलती है । आइए देखते हैं कुछ Generic Top Level Domain नाम व Country Code Top Level Domain ( ccTLD ) के उदाहरण ।


Tld kya hai generic aur ccTLD DOMAIN NAME



Generic Top level domain extension के कुछ उदाहरण :-

  • com ( commercial )
  • edu ( educational )
  • org ( organisation )
  • gov ( goverment  )
  • co ( company )
  • net ( networking )
  • mil ( military  )
  • int ( international  )
  • biz ( business )
  • info ( information )


उदाहरण के लिए - Facebook.com, Google.com, Welcomedear.com, Google.co.in आदि । ये सभी Top level domain एक्सटेंशन हैं । 

जैसा कि, पहले बताया जा चुका है कि Domain name case sensitive नहीं होता । इसका मतलब है कि हम Capital या small किसी भी letter में type करें, Results समान ही होंगे । ध्यान रखें कि URL- UNIFORM RESOURCE LOCATOR व DOMAIN NAME एक ही चीज़ नहीं है । असल में दोनों में कुछ भिन्नता है । URL case sensitive होता है । URL Type करते समय हमें Capital व Small letters का ध्यान रखना पड़ता है । नीचे एक URL दिया जा रहा है, जिसमे DOMAIN NAME बोल्ड LETTERS में हैं ।

{https://www.whiteambition.com/software-kya-hai}

ccTLD यानि Country code top level domain एक्सटेंशन के उदाहरण :-
.in ( India )
.us ( United States of America )
.uk ( United Kingdom )
.br ( Brazil )
.ru ( Russia )
.cn ( China )
इस प्रकार के Domain extention किसी विशेष देश को इंगित करते हैं । यह नामकरण आमतौर पर किसी देश के दो अक्षर ISO CODE के आधार पे होता है ।

SUBDOMAIN NAME क्या होता है ?

यदि आप भी कोई blog या website चला रहे हों या फिर चलाना चाहते हों, तो यह जानकारी आपके काम की हो सकती है । यदि आपने कोई Top level domain Register करवाई हो तो आप इसे अलग-अलग Subdomain मेें divide कर सकते हैं । हमें इसके लिए कोई अलग charge नहीं देने होते । Subdomain Main Domain का ही हिस्सा होता है । उदाहरण देखिए :-
Math.whiteambition.com
Hindi.whiteambition.com आदि subdomain name हैं ।

यदि आप भी अपने बिज़नेस के लिए कोई website बनाना चाहते हैं तो उसके लिए आपको एक Domain Name की जरुरत होगी । इसे आप नीचे दिए जा रहे Domain name provider से खरीद सकते हैं । ये हैं कुछ Top Domain name provider की list यानि सूची ।
👉 Bigrock 
👉 GoDaddy 
👉 Namecheap 
👉 1and1
👉 In 
👉 EWeb Guru 
👉 Ipage 
👉 Znetlive 


अपने ब्लॉग या वेबसाइट के लिए डोमेन नेम कैसे सेलेक्ट करें ?

Domain name कैसे बनाएं या Domain name कैसे select करें ? यह प्रश्न आपके दिमाग में जरुर आता होगा । अब जबकि आपने Domain name system यानि DNS को जान लिया है और आप भी अपने लिए कोई blog अथवा business के liye कोई website create करना चाहते हैं तो यह प्रश्न उठना स्वाभविक है । तो इस सम्बन्ध में हमें कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिये ।

● Domain name का selection कुछ ऐसा करें जिसे याद रखने में आसानी हो । Domain name का मुख्य मकसद ही यही है । क्योंकि IP Address को याद रखना कठिन है ।

● Domain name ज्यादा लम्बा ना हो । इसलिये Short domain name select करना चाहिये । इसे हम आसानी से type भी कर सकें और ध्यान में भी जल्दी आ जाए ।

● इसका चुनाव कुछ इस तरह करें कि यह अपने आप में Unique हो ।

● Top level domain extention ही लें । यह seo friendly होने के कारण search result में भी rank पाता है ।

● आप अगर किसी business purpose से Domain name registerd करना चाहते हैं तो ध्यान रखें कि  आपका Domain name इससे मिलता हो ।
यदि आप Domain name register करना चाहते हैं तो ऊपर दिए गए domain name provider की website पर जाईए और अपना account create कीजिए । फिर आप अपनी मनपसंद Domain name ( यदि उप्लब्ध हो तो ) खरीद लीजिये । आप 1 साल, 2 साल आदि के लिए भी यह Domain name खरीद सकते हैं ।

तो आज हमने Domain name system - DNS क्या है ( What is domain name system in Hindi )
IP ADDRESS, SUBDOMAIN, GENERIC TOP LEVEL DOMAIN यानि TLD व ccTLD यानि Country code top level domain, Domain name provider की list आदि के बारे में जानकारी प्राप्त की।
                             


कोई टिप्पणी नहीं

Blogger द्वारा संचालित.