Operating System सॉफ्टवेयर क्या है ? इसके प्रकार सहित जानकारी

ऑपरेटिंग सिस्टम सॉफ्टवेयर ( Operating System ) सिस्टम सॉफ्टवेयर का ही भाग है । सॉफ्टवेयर को मुख्य रूप से तीन भागों में बांटा जा सकता है - सिस्टम सॉफ्टवेयर, ऐप्लिकेशन सॉफ्टवेयर और यूटीलिटी सॉफ्टवेयर । इसी प्रकार सिस्टम सॉफ्टवेयर के भी दो भाग हैं - ऑपरेटिंग सिस्टम सॉफ्टवेयर और लैंग्वेज ट्रान्सलेटर सॉफ्टवेयर । 

यहां हम मुख्य रूप से Operating System से सम्बन्धित terms पर focus करेंगे । मसलन, Operating System ( ऑपरेटिंग सिस्टम )क्या होता है, यह कितने प्रकार का होता है ( Types of Operating System ), Operating System का Computer में क्या कार्य है अर्थात् OS के उपयोग और ऑपरेटिंग सिस्टम सॉफ्टवेयर के उदाहरण ( Examples of Operating System सॉफ्टवेयर ) आदि ।
OS के प्रकार, OS क्या है - उदहारण सहित जानकारी


Operating System क्या है ?

What is Operating System in hindi ?


Operating System दरअसल एक Software है । यह सिस्टम सॉफ्टवेयर का ही भाग है । आप यह भी जानते हैं कि सिस्टम सॉफ्टवेयर के बिना कंप्यूटर एक लोहे और अन्य पुर्जों से बना एक बिना जान की सामग्री भर रह जाएगा । यह Software ही होता है जो उसमे जान डालता है और उसे विभिन्न प्रकार के कार्यों के लिए उपयोगी बनाता है । ये सिस्टम सॉफ्टवेयर से सम्बन्धित चीजें हैं । जैसा कि आपने जाना कि Operating System सॉफ्टवेयर भी एक प्रकार का सिस्टम सॉफ्टवेयर ही है, इससे आप ऑपरेटिंग सिस्टम सॉफ्टवेयर का कंप्यूटर में क्या महत्व है, इसका बखूबी अंदाजा लगा सकते हैं ।


Operating System – यह एक प्रकार का प्रोग्राम अथवा प्रोग्रामों का समूह है । यह कंप्यूटर और उससे जुड़े चीजों को नियंत्रित करता है । यह कंप्यूटर के हार्डवेयर, ऐप्लिकेशन सॉफ्टवेयर और इसके उपयोग करने वालों के बीच एक सम्बन्ध जोडत है । Operating System के बिना अर्थात इसके ना होने पर कंप्यूटर का हार्डवेयर किसी program को run नहीं कर सकता । इस प्रकार, Operating System Computer Hardware को निर्देशित करता है और इसी निर्देश के अनुसार कंप्यूटर का हार्डवेयर किसी ऐप्लिकेशन प्रोग्राम को run करता है ।



Compiler, Assembler, Interpreter aur Language translator की पूरी जानकारी




150 कंप्यूटर कंप्यूटर सम्बन्धी abbreviatios




कंप्यूटर समबन्धी महत्त्वपूर्ण प्रश्न उत्तर




डोमेन नाम क्या है ? Domain Name System की पूरी जानकारी ।




Software क्या होता है ? कितने प्रकार का होता है ? पूरी जानकारी ।


कंप्यूटर में Operating System के कार्य और उपयोग / महत्व : Operating System सॉफ्टवेयर के कंप्यूटर में बहुत ही महत्वपूर्ण कार्य हैं । Computer में ऑपरेटिंग सिस्टम सॉफ्टवेयर के उपयोग और महत्व को हम निम्नलिखित रूप में समझ सकते हैं ।

● ऑपरेटिंग सिस्टम कंप्यूटर के प्रयोक्ता और कंप्यूटर हार्डवेयर के मध्य सम्बन्ध स्थापित करता है । कंप्यूटर हार्डवेयर OS के द्वारा निर्देश प्राप्त कर किसी ऐप्लिकेशन प्रोग्राम को run करता है और इस प्रकार कंप्यूटर के उपयोगकर्ता को वांछित जानकारी उपलबध कराता है ।


●जब हम कंप्यूटर को on करते हैं तो ऑपरेटिंग सिस्टम सॉफ्टवेयर अन्या सॉफ़्टवेयर को Secondary Memory से Primary Memory में ले जाता है । इसके साथ-साथ यह कुछ मूल क्रियाओं को स्वत: ही आरम्भ कर देता है ।

●यह कंप्यूटर के सॉफ्टवेयर और डाटा को अवैध प्रयोग से सुरक्षित रखता है और इससे सम्बन्धित Warning भी देता है । इस प्रकार ऑपरेटिंग सिस्टम में User Security भी होती है और किसी अवैध तरीके से यह डाटा को नष्ट होने से बचाता है ।

●कंप्यूटर के विभिन्न त्रुटियों ( Errors ) को बतलाना जिसका सम्बन्ध हार्डवेयर तथा सॉफ़्टवेयर से होता है ।

●ऑपरेटिंग सिस्टम Store होने वाले डाटा को अलग रखता है । यह कार्य इस प्रकार किया जाता है ताकि डाटा एक से दूसरे में मिक्स ना हो ।

●Operating System फ़ाईल managment, Memory व Store Managment सम्बन्धी कार्य भी करता है । Operating System सॉफ्टवेयर को हम Resource manager के तौर पर भी काम करते हुए पाते हैं । यह निर्देशित करता है कि सीपीयू को किस टाईम पर कौन सा कार्य करना है, सिस्टम की memory किस प्रोग्राम के लिये इस्तेमाल होगा आदि ।

OS Storage सम्बन्धी कार्य करता है कि कंप्यूटर के डाटा files को कंप्यूटर में किस स्थान पर सुरक्षित रखना है ।
Operating System सॉफ्टवेयर क्या है इन हिन्दी


ऑपरेटिंग सिस्टम के उदाहरण

( Examples of Operating System )

ऑपरेटिंग सिस्टम (OS) के उदाहरण ( Examples ) निम्नलिखित हैं :

•Google Chrome OS

•Android OS

•Apple Mac OS

•Microsoft Windows ⬇️

➡️Windows 10➡️Windows 7➡️Windows Vista ➡️Windows 95➡️Windows 98➡️XP ➡️ME

•Unix

•Xenix

•Linux

•Microsoft DOS आदि ।

ये कुछ मुख्य Operating System के उदाहरण हैं ।


Types of Operating System / ऑपरेटिंग सिस्टम के प्रकार


आपने ऊपर कुछ प्रचलित Operating System का उदाहरण देखा । अब आपके सामने यह सवाल आ रहा होगा कि क्या ये सभी ऑपरेटिंग सिस्टम सॉफ्टवेयर एक ही तरह के कार्य सम्पादित करते हैं ? हमने ऊपर ऑपरेटिंग सिस्टम Computer System के लिये किस प्रकार उपयोगी है और क्या कार्य करता है - इसे भी जाना । आइये, अब हम Operating System ( OS - ऑपरेटिंग सिस्टम ) कितने प्रकार के होते हैं  ( TYPES OF OS ), के सम्बन्ध में जानते हैं ।


Operating System कई प्रकार के होते हैं और कंप्यूटर में इनके भिन्न-भिन्न उपयोग हैं । Operating System निम्नलिखित प्रकार ( Types ) के होते हैं :-

Batch Processing OS

Real Time OS

Single OS

Multi Programming OS

Multi Processing OS

Multi Tasking OS

Multi User OS

Open Source OS

Closed Source OS

EMBEDED Operating System


Batch Processing Operating System ( बैच प्रोसेसिंग ऑपरेटिंग सिस्टम ) - विकास क्रम के आधार पर यह सर्वप्रथम प्रयोग किये जाने वाले ऑपरेटिंग सिस्टम में से है । इस OS का प्रयोग खासकर ऐसे कार्यों में होता है जिसे करने के लिये हमारे हस्तक्षेप की आवश्यकता नहीं होती । इसके लिये बैच मॉनिटर सॉफ्टवेयर प्रयोग में लाये जाते हैं । Batch Processing Operating System का अब बहुत ही सीमित प्रयोग अब होता है ।


Real Time Operating System ( रियल टाईम OS ) - रियल टाईम ऑपरेटिंग सिस्टम किसी निश्चित समय सीमा के अन्दर परिणाम देता है । इस ओएस में प्रोग्राम का Response time  बहुत तीव्र होता है । इसमें एक प्रोग्राम का output दूसरे प्रोग्राम के लिये input हो सकता है और जब एक प्रोग्राम को run करने में देरी होती है तो इससे दूसरा प्रोग्राम प्रभावित हो सकता है । परमाणु भट्टी, चिकित्सा, रेलवे रिजर्वेशन आदि में रियल टाईम ऑपरेटिंग सिस्टम का प्रयोग किया जाता है ।


Single Operating System ( सिंगल ऑपरेटिंग सिस्टम )- Computer अपने विकास क्रम में आगे बढ़ता गया और फिर हमें इस तरह के OS की जरुरत हुई । इसमें user को अधिक सुविधा मुहैया कराये जाने पर बल दिया गया ।


Multi Programing Operating System ( मल्टी प्रोग्रामिंग ऑपरेटिंग सिस्टम ) - इसके नाम से ही स्पष्ट है कि यह एक साथ कई कार्य कर सकता है । जब कोई Operating System एक समय में एक से अधिक प्रोग्राम को चलाता है, तो इसे मल्टी प्रोग्रामिंग ओएस कहते हैं । उदाहरण के लिए, जब आप अपने कंप्यूटर में एक साथ इंटरनेट भी चला रहे होते हैं, excel में काम भी कर रहे होते हैं और गाना भी सुन रहे होते हैं, तो यह मल्टी प्रोग्रामिंग ऑपरेटिंग सिस्टम की वजह से सम्भव हो पाता है । एमएस विंडोज़ एक मल्टी प्रोग्रामिंग Operating System है ।
इसमें एक प्रोग्राम जब run कर लिया जाता है तो दूसरा प्रोग्राम run करने की प्रक्रिया शुरु हो जाती है और इससे run करने में लगने वाला कुल समय कम हो जाता है । ऐसे Operating System कंप्यूटर की Central Processing Unit - CPU को हमेशा व्यस्त रखता है ।


Multi Processing Operating System ( मल्टी प्रोसेसिंग ऑपरेटिंग सिस्टम )- इसमें एक साथ दो या अधिक processor को जोड़कर उनका उपयोग किया जाता है । इससे कार्य शीघ्रता से हो पाता है । मल्टी प्रोसेसिंग से तात्पर्य है - एक साथ दो प्रोग्राम को run किया जा सकता है ।


Multi Tasking Operating System ( मल्टी टास्किणऑपरेटिंग सिस्टम )- इसमें भी हम एक साथ कई कार्य कर पाते हैं । इसमें हम कार्यों की प्रगति को भी ऑन स्क्रीन देख सकते हैं ।


Multi User Operating System ( मल्टी यूज़र ऑपरेटिंग सिस्टम)- नाम से ही स्पष्ट है कि ऐसे ऑपरेटिंग सिस्टम में एक साथ एक से अधिक users कार्य कर सकते हैं । यह कार्य networking पर होता है जहां एक साथ कई users सक्रिय होते हैं । Linux और Unix मल्टी यूज़र ऑपरेटिंग सिस्टम के उदाहरण हैं ।


Embeded Operating System ( इम्बेडेड ऑपरेटिंग सिस्टम)- Embed का अर्थ होता है अन्त: स्थापित करना । यह पूरे उपकरण के एक भाग में स्थापित होते हैं । यह उपकरण के अन्दर स्थित प्रोसेसर के प्रयोग हेतु बनाया जाता है ।डिजिटल घड़ियाँ, MP3 Players, Microwave आदि में प्रयोग किया जाता है ।


Open Source सॉफ्टवेयर ( ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर)- जब कोई Software developer द्वारा तो उसकी launching के साथ उसका सोर्स कोड नहीं दिया जाता । यह कोड Developer अपने पास रखता है । इसलिए इस सोर्स कोड तक आपकी पहुंच ना होने के कारण आप इसमें किसी तरह का कोई बदलाव नहीं कर सकते । ऐसे सिस्टम closed OS तथा जिसका सोर्स कोड सबके लिये उपलब्ध होता है और हम इसमें जरुरत के अनुसार परिवर्तन भी ला सकते हैं , Open Source operating system कहलाते हैं । लीनक्श और एंड्रॉइड ओएस ओपेन सोर्स ऑपरेटिंग सिस्टम है जबकि एमएस विंडोज़ क्लोज़्ड सोर्स ऑपरेटिंग सिस्टम है ।


तो, आज हमने ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है, इसके उदाहरण और Operating System के प्रकार आदि की जानकारी लेने का प्रयास किया । आप निम्नलिखित जानकारी भी देख सकते हैं :



Compiler, Assembler, Interpreter aur Language translator की पूरी जानकारी




150 कंप्यूटर कंप्यूटर सम्बन्धी abbreviatios




कंप्यूटर समबन्धी महत्त्वपूर्ण प्रश्न उत्तर




डोमेन नाम क्या है ? Domain Name System की पूरी जानकारी ।




Software क्या होता है ? कितने प्रकार का होता है ? पूरी जानकारी ।


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां