हम जानते हैं कि किसी संख्या को अंकों में लिखने के लिए दस अंकों का प्रयोग किया जाता है. ये अंक हैं- 0, 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, और 9.
यह संख्या दायीं से बायीं ओर क्रमशः इकाई, दहाई, सैकड़ा, हजार, दस हजार, लाख, दस लाख, करोड़ आदि स्थानों के द्वारा लिखा जाता है.
उदाहरण: मान लीजिए, हमें "चार लाख पैंतीस हजार पांच" को अंकों में लिखना है, तो कैसे लिखा जाएगा ?
इसके लिए हम लाख तक का स्थान लेंगे, फिर उसमें संबंधित अंक बैठा देंगे !
लाख दस-हजार हजार सैकडा दहाई इकाई
 4          3           5         0       0        5
यानी 4 3 5 0 0 5
अब ध्यान दें....यहां इकाई, दहाई, सैकड़ा, हजार आदि का अंक आपको पता है, तो इसे और स्पष्ट रूप में समझते हैं.
 5 इकाई = 5
 0 दहाई = 0
 0 सैकड़ा = 0
 5 हजार = 5 0 0 0
3 दस-हजार = 3 0 0 0 0 (3*10000)
 4 लाख = 400000
अब जब हम इन सभी संखयाओं का योग करेंगे, तो हम 435005 पाएँगे !

**अंकों में दी गई संख्या को शब्दों में लिखना-
उदाहरण- 44444 को शब्दों में लिखें !
हल- चौवालीस हजार चार सौ चौवालीस

**(TOPIC-2)
स्थानीय मान(PLACE VALUE) व जातीय मान (FACE VALUE)
ध्यान दें- किसी संख्या में कोई अंक किसी भी स्थान पर हो, उस अंक का जातीय मान वो अंक खुद ही होता है. इस प्रकार, किसी अंक का जातीय मान उस अंक का अपना मान होता है.
जैसे- 45213 में अंक 2 का जातीय मान 2 ही होगा, 5 का 5 ही होगा.
*स्थानीय मान- इस मान से मतलब है कि कि दी गई संख्या में वह अंक किस स्थान पर है.यदि इकाई स्थान पर है तो अंक को 1 से गुणा कर देंगे, दहाई स्थान पर है तो 1 0 से, सैकड़ा स्थान पर है तो 1 0 0 से. इस प्रकार प्राप्त संख्या उस अंक का स्थानीय मान होगा.
जैसे- 54673  में 6 का स्थानीय मान 6 0 0, 4 का 4 0 0 0, 3 का स्थानीय मान 3 ही होगा.

************